Homeमोहनिया877 लीटर शराब के साथ 5 तस्कर गिरफ्तार

877 लीटर शराब के साथ 5 तस्कर गिरफ्तार

Bihar: कैमूर जिले के मोहनिया थाना क्षेत्र अंतर्गत अकोढ़ी गांव के समीप समेकित चेकपोस्ट की जांच चौकी पर पुलिस व एंटी लीकर टास्क फोर्स के संयुक्त जांच अभियान में एक पिकअप वाहन (यूपी 65 एमटी-4505) से 877 लीटर शराब बरामद किए जाने का मामला सामने आया है। जिसमे सवार 3 व पीछे से आ रही नेक्सन कार (बीआर 45 क्यू-7326) में सवार 2 लोग कुल 5 लोगो को गिरफ्तार किया गया है। 

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

NS News

मामले से संबंधित जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक ललित मोहन शर्मा ने बताया कि बुधवार की रात वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर रात्रि गश्ती दल के पदाधिकारी परि.पु.अ.नि विशाल कुमार सिंह एंटी लिकर टास्क फोर्स की टीम के सहयोग से शराब बरामदगी के लिए जांच चौकी पर यूपी की तरफ से आने वाले वाहनों की जांच की जा रही थी। इसी दौरान गुरुवार की अहले सुबह यूपी की तरफ से आ रही एक पिकअप को रोक कर तलासी ली गई तो वाहन में बोरियों में आलू लदी हुई थी। इसी के बीच में छिपाकर कार्टून में 877 लीटर शराब रखी गई थी। जिसके बाद शराब बरामद करते हुए पिकअप में सवार 3 लोगो को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार लोगो की पहचान यूपी के चंदौली जिला के धीना थाना क्षेत्र के महुली ग्राम निवासी अरविंद कुमार के पुत्र अमित कुमार चालक, किशुन बिंद के पुत्र मंटू बिंद सह चालक व मालिक चंद्रजीत यादव पिता स्व.राजदेव यादव ग्राम गुरेरा,थाना-बलुआ निवासी के रूप में की गई है।

वही जब गिरफ्तार लोगो से पूछताछ की गई तो उनके द्वारा बताया गया कि पीछे से नेक्सन कार आ रही है। जिसमें सवार लाइनर का काम कर रहे हैं। कार में भी शराब है। पिकअप को पुलिस के कब्जे में देखकर कार खड़ी कर उसमें सवार लोग भागने लगे। जिसमें से 2 व्यक्तियों को खदेड़ कर पकड़ लिया गया। 1 व्यक्ति भागने में सफल रहा। पकड़ाए व्यक्तियों में उत्पाद विभाग का निजी चालक दुर्गावती थाना क्षेत्र के खामीदौरा ग्राम निवासी श्रीनाथ पासवान का पुत्र अमरनाथ पासवान व इसी गांव के राज बहादुर सिंह का पुत्र पपलू सिंह का नाम शामिल है। दोनों वाहनों से कुल 877 लीटर शराब, 63 हजार रुपये नकद व 6 मोबाइल फोन बरामद किया गया। छापेमारी दल में विशाल कुमार के अलावा एलटीएफ के प्रभारी प्रभात कुमार व थाना का सशस्त्र बल शामिल था। इस टीम में शामिल सभी लोगों को पुरस्कृत किया जाएगा।अमरनाथ पासवान करीब छह वर्षों से उत्पाद विभाग का वाहन चला रहा है।इसके साथ साथ व शराब के कारोबार में भी शामिल था। उससे शराब कारोबारियों के बारे में अहम सुराग मिले हैं। जिसके आधार पर पुलिस कार्रवाई कर रही है।

 

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments