Homeबिहारहम सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री ने की बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने...

हम सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री ने की बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

Bihar: हम पार्टी प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है उनका कहना कि बिहार में सिर्फ वादे किए जा रहे हैं की अपराध घटेगा, अपराधी को नहीं छोड़ा जाएगा, कोई सॉलिड काम नहीं हो रहा है यह कहने से नहीं चलेगा, यही कारण है कि अपराधियों का मनोबल बढ़ रहा है हद यह हो गई कि भाई की हत्या के बाद गवाह पत्रकार भाई की भी गोली मार का हत्या कर दिया जाता है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

ns news

आजकल शिडूल कास्ट की प्रताड़ना बिहार में बढ़ गई है, इसका कारण यह है कि गवाहों को हतोत्साहित किया जाता है परेशान किया जाता है इसी कारण से साक्ष्य के अभाव में अपराधी छूट जाते हैं, दारोगा या पुलिस बल पर भी हमले हो जा रहे हैं, हत्या, बलात्कार की घटनाएं हो रही है सबसे बड़ी बात यह कि अनिल यादव वीकर सेक्शन के आईजी रहे हैं, उनकी बात फाइलों में लिखी है यहां 100 केस अगर शिडूल कास्ट पर होता है तो 90 केस राजद के लोगों के द्वारा हो रहा है कहा जा सकता है कि शह पर ही लोग आगे बढ़कर अपराधिक घटनाओं का अंजाम दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अब स्थिति बहुत आगे नहीं बिगड़े इससे अच्छा होगा कि बिहार में राष्ट्रपति शासन लागू कर दी जाए तभी यहां की स्थिति ठीक हो सकती है नहीं तो बिहार की स्थिति अपराध के मामले में कंट्रोल से बाहर हो गई है, वही 13 जून 2023 को जीतन राम मांझी के बेटे संतोष कुमार सुमन ने बिहार सरकार में मंत्री पद छोड़ दिया था इसी के साथ उनकी पार्टी हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा ने महागठबंधन का साथ छोड़ दिया अब हम पार्टी एनडीए के साथ है नीतीश कुमार से अलग होने के बाद जीतन राम मांझी के तेवर नीतीश सरकार पर तल्ख हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments