Homeमुजफ्फरपुरसीनियर से दुर्व्यवहार और एंटी रैगिंग को लेकर सात छात्रों को ब्लैक...

सीनियर से दुर्व्यवहार और एंटी रैगिंग को लेकर सात छात्रों को ब्लैक डाट एवं अर्थदंड

Bihar: मुजफ्फरपुर जिले के मुजफ्फरपुर इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलाजी (एमआइटी) ने सीनियर से दुर्व्यवहार और एंटी रैगिंग सेल में रैगिंग की झूठी शिकायत के मामले में सात  छात्रों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। सभी को ब्लैक डाट के अलावा अलग-अलग अर्थ दंड भी लगाया गया है। इसमें साइबर फ्रॉड एमआइटी का छात्र फैजान भी शामिल है। हालांकि, साइबर फ्रॉड के मामले में अभी कार्रवाई नहीं हुई है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

NS News

इस मामले में एक अन्य छात्र आकाश भी आरोपित है। कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर एमके झा ने बुधवार को इस  संबंध में आदेश जारी किया है।  जिसमें कहा गया है कि अप्रैल में जूनियर छात्रों ने सीनियर छात्रों के साथ दुर्व्यवहार किया इसके बाद एआइसीटीई के एंटी रैगिंग सेल को फोन कर गलत सूचना दे दी कि उनके साथ सीनियर छात्रों ने रैगिंग की है।

जिसके बाद एआइसीटीई की ओर से कॉलेज को मामले की जांच का आदेश दिया गया।  कॉलेज के अनुशासन समिति का गठन कर पूरे मामले की जांच कराई तो इस क्रम में कॉलेज के अन्य छात्रों से पूछताछ की गई कॉलेज परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज की जांच की गई। जिसमें कई  महत्वपूर्ण बातें सामने आई उसमें यह देखा गया कि जूनियर छात्रों ने ही सीनियर के साथ दुर्व्यवहार किया था। रैगिंग करने के बाद इसकी झूठी शिकायत कर दी थी। दूसरी ओर साइबर फ्राड की गतिविधियों के मामले में गिरफ्तार फैजान अली का भी नाम शामिल है। कमेटी ने सात छात्रों को वन ब्लैक डाट व आर्थिक दंड लगाया गया है। 3 छात्रों को वन ब्लैक डाट के साथ 10-10 हजार रुपये का आर्थिक दंड दिया। 2 छात्रों को वन ब्लैक डाट के साथ 25 हजार रुपये जुर्माना किया गया। 2 छात्रों को वन ब्लैक डाट, 50 हजार रुपये के साथ छात्रवृत्ति से वंचित किया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments