Homeपश्चिमी चम्पारणसंदिग्ध परिस्थिति में महिला की मौत, नन्दोई पर हत्या का आरोप

संदिग्ध परिस्थिति में महिला की मौत, नन्दोई पर हत्या का आरोप

Bihar: पश्चिमी चंपारण जिले के रामनगर थाना क्षेत्र के बरगजवा गांव में एक महिल की संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी, उसके बाद ससुराल वालों ने उसके शव को दफना दिया था, महिला की पहचान बरगजवा गांव निवासी गयासुद्दीन की पत्नी सिब्बी खातून के रूप में की गई थी, 21 अगस्त को सिब्बी की बहन उसके ससुराल पहुंची थी उस वक्त सिब्बी के ससुर ने पंचायत बुलाई थी उनके समाज के लोगों ने शव को बाहर निकालने से मना किया था उनका कहना था कि एक बार शव को दफनाने के बाद बाहर नहीं निकाला जाता है। ऐसा करने से पाप लगता है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

ns news

कब्र से 7 दिन बाद एक महिला का शव निकाला गया है, दरअसल मृतका के भाई ने गुरुवार को थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी, फिर शनिवार को मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में शव को बाहर निकाला गया, शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है, सिब्बी की बहन शमीमा खातून ने कहा कि उसकी मौत के कुछ देर पहले उससे मेरी फोन पर बात हुई थी उसके पति से भी उसने बात की सास से भी बात हुई थी फिर 20 तारीख को कुछ घंटे बाद करीब तीन बजे हमें कॉल आया कि उसकी मौत हो गई है।

शमीमा ने बताया कि घर में उसका ननदोई इमरान आलम उसे चार सालों से टॉर्चर कर रहा था मेरी बहन को ससुराल वालों ने कैद कर लिया था उसे बाहर जाने नहीं दे रहे थे 18 अगस्त को मेरे बहनोई का कॉल आया कि सब समझौता हो चुका है अब वह खाएगी- पीएगी और आराम से रहेगी फिर 20 तारीख को ऐसा क्या हो गया कि उसकी मौत हो गई।

आवेदन में महिला के भाई ने लिखा है कि बहन के ननदोई द्वारा जबरदस्ती की जा रही थी वह उससे एकतरफा प्यार करता था बहन के मना करने पर ननदोई और उसके कुछ मित्रों ने उसकी हत्या की है ननदोई उसके साथ गलत संबंध बनाना चाहता था वह हमेशा विरोध करती थी पति विदेश रहता है चार साल से ही दोनों में झगड़ा होता रहता था, बहन के गले में रस्सी के निशान हैं शव को कब्र से निकाला है ताकि मौत के कारणों का पता चल सके, पुलिस ने आवेदन के अनुसार एफआईआर दर्ज कर जांच में जुट गई है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments