Homeसीतामढ़ीशराबबंदी के बावजूद मिल रहे शराब पर गहरी चिंता, विजय कुमार सिन्हा

शराबबंदी के बावजूद मिल रहे शराब पर गहरी चिंता, विजय कुमार सिन्हा

Bihar: सीतामढ़ी के बाजपट्टी विधानसभा में जहरीली शराब पीने से 6 लोगो की मृत्यु हो गई थी। जिनके परिवार से नेता प्रतिपक्ष उनके गांव मिलने गए। बिहार विधानसभा में पारित कानून के अनुसार सीएम नीतीश कुमार को शराब पीकर मरे सभी मृतकों को 4 लाख मुआवजा की राशि देना चाहिए। मृतक परिवार की ओर से आवेदक ने शराब से मृत्यु होने का आवेदन दिया है। स्थानीय थाना प्रभारी ने मृतक परिवार को धमकाने और दबाव बनाकर पोस्टमार्टम को रोकने का काम किया है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

NS News

यदि जिला प्रशासन और बिहार के सीएम नीतीश कुमार जहरीली शराब पीने से मृतक परिवार को चार लाख मुआवजा नहीं देते हैं तो जन आंदोलन की शुरुआत की जाएगी। सरकार को उचित कार्रवाई करते हुए दोषी को सस्पेंड किया जाना चाहिए। बिहार में शराब कानून असफल कानून है। दरभंगा में भी शराब पीने से मृत्यु हुई है इसलिए बिहार सरकार पूरी प्रशासन को अतिरिक्त आमदनी का जरिया बनाकर शराब माफिया का संरक्षण देने का काम कर रही है। वही बिहार विधानसभा नेता प्रतिपक्ष पूर्व मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने बिहार में शराबबंदी के बावजूद शराब के बिक्री पर गहरी चिंता व्यक्त की है।

मृतक परिवार से बाजपट्टी विधानसभा के शिष्ट मंडल ने मुलाकात की और उनका आवेदन लिया। जिसमें मंडल अध्यक्ष सुनील कुमार मिश्रा व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नंदेश्वर यादव,जिला कार्यसमिति सदस्य जिला पार्षद प्रवीण कुमार गुड्डू ने नेता प्रतिपक्ष को आवेदन देकर शराब से मृतक परिवार को मुआवजे की मांग की है। प्रेस वार्ता में नगर विधायक मिथिलेश कुमार, बथनाहा विधायक अनिल कुमार राम, पूर्व विधायक नगीना देवी, पूर्व सांसद सीताराम यादव, भाजपा उपाध्यक्ष मनोज बैठा, लोकसभा संयोजक प्रोफेसर उमेश चंद्र झा, कोषाध्यक्ष सुभाष केसरी,मीडिया संयोजक आग्नेय कुमार कुमार,लोकसभा विस्तारक देवानंद कुंवर,मंडल अध्यक्ष अंशुल प्रकाश,अति पिछड़ा मोर्चा अध्यक्ष श्याम नंदन प्रसाद,समेत भाजपा नेता उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments