Homeचैनपुरमां से हुआ तकरार तो बेटी ने लगाई फांसी, ट्रामा सेंटर रेफर

मां से हुआ तकरार तो बेटी ने लगाई फांसी, ट्रामा सेंटर रेफर

Bihar: कैमूर जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बिरना अपने मायके में रह रही एक विवाहिता ने गले में फंदा लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया जिसे परिजनों के सहयोग से चैनपुर सीएचसी ले जाया गया जहां से बेहतर इलाज के लिए भभुआ रेफर किया गया वहां भी स्थिति में सुधार न होने पर वाराणसी ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है, विवाहिता कि पहचान घटमापुर गांव के निवासी चंदन राम के 19 वर्षीय पत्नी लक्ष्मी देवी के रूप में हुई है, जो वर्तमान समय में अपने मायके बिरना में रह रही थी।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

प्राप्त जानकारी के मुताबिक विवाहिता बीते 1 वर्षों से अपने मायके में ही रह रही थी कुछ दिनों से मां और बेटी में अक्सर छोटी-छोटी बातों को लेकर टकरार हो रहा था, उसी बात से आहत विवाहिता ने रविवार की दोपहर साड़ी को फंदे के रूप में बनाकर लटक गई, इस घटना को विवाहिता की छोटी बहन ने देख लिया और शोर मचाने लगी जिसपर घर के परिजन सहित गांव वाले पहुंच गए और किसी तरह फंदे से उतारा और चैनपुर सीएचसी ले गए, जहां से बेहतर इलाज के लिए भभुआ रेफर किया गया, जहां से हायर सेंटर रेफर किया गया है।

वहीं इस मामले की जानकारी देते हुए विवाहिता के भाई डब्लू कुमार पिता ध्रुव राम ने बताया वह भभुआ में रखकर पढ़ाई करता हैं रविवार की दोपहर बहन लक्ष्मी देवी एवं मां के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ था इसी गुस्से में आकर बहन ने गले में फंदा लगाकर खुदकुशी करने का प्रयास किया, घर वालों की नजर पड़ गई ग्रामीणों के सहयोग से फंदे से उतार कर इलाज के लिए चैनपुर लाया गया जहां से भभुआ रेफर किया गया है यहां से भी स्थिति की गंभीरता देखते हुए ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।
वहीं इस मामले में जानकारी लेने पर चैनपुर थानाध्यक्ष विजय प्रसाद ने बताया ग्राम बिरना गले में फंदा लगाकर खुदकुशी करने के प्रयास की सूचना इन्हें नहीं है ना ही इस घटना को लेकर किसी तरह का कोई आवेदन प्राप्त हुआ है अगर मामले में आवेदन मिलता है तो जांच करते हुए कार्रवाई की जाएगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments