Homeचैनपुरमां धान काटने में थी व्यस्त एक ही घर के पांच बच्चे...

मां धान काटने में थी व्यस्त एक ही घर के पांच बच्चे तालाब में डूबे हुई मौत

Bihar: कैमूर जिले के रामपुर प्रखंड के करमचट थाना क्षेत्र अंतर्गत धवपोखर गांव में सोमवार की सुबह एक दिल दहला देने वाली घटना सामने गई है, गांव के पांच बच्चे तालाब में स्नान करने के दौरान डूब गए, जिनकी मौत हो गई। पांचों एक ही परिवार के बच्चे हैं। जबकि इसी परिवार की तीन अन्य बच्चे भी साथ में स्नान करने गए थे, मगर वह भाग्यवश बच गए।
मृतकों में शिक्षक सुशील राम की तीन पुत्री शामिल हैं, जिसमें अनु प्रिया 12 वर्ष, अंशु प्रिया 10 वर्ष व मधु कुमारी 8 वर्ष, जबकि छोटे भाई सुनील राम की एक पुत्री अपुर्वा कुमारी 4 वर्ष व सुशील व सुनील की बहन रिंकू देवी का पुत्र अमन कुमार चार वर्ष की भी डूबने से मौत हो गई।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

NAYESUBAH NAYESUBAH NAYESUBAH

मृतकों में अमन कुमार रोहतास जिले के मुफ्स्सिल थाना क्षेत्र अंतर्गत धनखाड़ा गांव निवासी जोखू राम का पुत्र है, जबकि अन्य धवपोखर गांव के ही है। मिली जानकारी के मुताबिक रिंकू देवी अपने मायके धवपोखर दो दिन पूर्व आई थी, उन्होंने अपने मायके में खेती की है, वह सोमवार की सुबह धान की कटनी करने गई थी, उनके लिए खाना लेकर सभी आठ बच्चे खेत पर गए, खाना देकर वे कुड़ारी गांव के मौजा में स्थित फकीराना तालाब में नहाने लगे, उसी दौरान 5 बच्चे गहरे पानी में चले गए, जबकि तीन तालाब के किनारे ही थे।

तीनों ने जब पांचों बच्चों को डूबते हुए देखा तो खेत पर धान की कटनी कर रही रिंकू देवी के यहां पहुंच कर जानकारी दिए, जहां से रिंकू देवी तालाब पर आई तो उन्होंने कोशिश कर दो बच्चों को बचा लिया। लेकिन इस दौरान वह भी डूृबने लगी। किसी तरह प्रयास कर उन्होंने अपने आप को बचा लिया। तब तक गांव का एक युवक तालाब की तरफ आया तो उसे घटना की जानकारी हुई। उसने ही गांव में फोन से सूचना दी तब गांव के लोग पहुंचे और पानी में डूबे तीन बच्चों को बाहर निकाला। वहां से फिर कुदरा ले जहां चिकित्सकों ने जांच कर पांचों को मृत घोषित कर दिया।

इसके बाद पुन: सभी के शव को लेकर ग्रामीण गांव चले आए, हालांकि इस बीच घटनास्थल पर कई पदाधिकारी एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि पहुंच गए जिनके द्वारा संतावना दिया गया जबकि भभुआ एसडीएम के द्वारा तत्काल मुआवजा देने की बात कही गई देर शाम तक मृतक के परिजनों को मुआवजे की राशि के 20 लाख रुपए का चेक सौंपा गया, वहीं दूसरी तरफ शव का पोस्टमार्टम करने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments