Homeपटनानीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कुल 18 एजेंडों पर...

नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कुल 18 एजेंडों पर लगा मुहर

Bihar: पटना, बिहार सरकार राज्य के 94 लाख गरीब परिवारों को 2-2 लाख रुपए देगी। जातीय और आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट 9 नवंबर को विधानसभा में पेश की गई थी। उसी समय सीएम नीतीश कुमार ने इसकी घोषणा की थी। इस घोषणा पर नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई बैठक में मोहर लगाई है। सर्वे में सभी वर्गों में 94 लाख गरीब परिवार चिह्नित किए गए हैं। यह योजना 5 साल के लिए है। सरकार एक-दो दिनों में नोटिफिकेशन भी जारी करेगी।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

NS Newsबताया गया की तीन किश्तों में मिलेगी राशि पहली में परियोजना लागत की 25 प्रतिशत, दूसरी में परियोजना लागत की 50 प्रतिशत और तीसरी में योजना लागत की 25 प्रतिशत राशि दी जाएगी। एक किश्त के उपयोग के बाद ही अगली किश्त मिलेगी। पहली किश्त लोकसभा चुनाव से पहले दे दी जाएगी। कैबिनेट में सड़क दुर्घटना में मौत पर परिजन को मिलने वाली राशि में इजाफा किया गया है। सड़क दुर्घटना में मौत पर अब 5 लाख रुपए मिलेगा। पहले 4 लाख की मदद मिलती थी। वहीं, सीएम चिकित्सा सहायता योजना के तहत किडनी के इलाज के लिए 2.5 लाख रुपए मिलेगा। नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई बैठक में कुल 18 एजेंडों पर मुहर लगी। लघु उद्यमी योजना के तहत राज्य में 62 उद्योग लगाने के लिए सरकार ने राशि स्वीकृत की है। इस बैठक में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव समेत अन्य मंत्री शामिल हुए।

 

साल की यह दूसरी बैठक थी। इससे पहले, कैबिनेट की बैठक 8 जनवरी को हुई थी। इसमें पंचायत प्रतिनिधियों और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय दो गुना तक बढ़ा दिया गया था। वही कैबिनेट में यह भी फैसले हुए हैं कि दिल्ली का बिहार निवास नए सिरे से बनाया जाएगा। बिहार निवास पर कुल 121 करोड़ 83 लख रुपए खर्च की जाएगी।
मोकामा नगर परिषद क्षेत्र में ड्रेनेज सिस्टम के लिए 40 करोड़ 56 लाख रुपए की स्वीकृति दी गई है।
गया जिला के दाऊद नगर में सोलर प्लांट लगेगा। कुल 25 एकड़ 89 डिसमिल जमीन पर सोलर प्लांट निर्माण किया जाएगा। पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग में कल 7 नए पदों का सृजन किया गया है।
EBC छात्रों को विशेष प्रोत्साहन राशि मिलेगी। मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के तहत 9 करोड़ 79 लाख 50 हजार रुपए की स्वीकृति दी है। योजना के तहत UPSC, BPSC, SSC, बैंकिंग सेवा भारती बोर्ड, IBPS और रेलवे भर्ती बोर्ड में सम्मिलित होने वाले अभ्यर्थियों को बिहार सरकार प्रोत्साहन राशि देती है।

 

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments