Homeकैमूरकैमूर में भड़काऊ पोस्ट लगाने के मामले में दो गिरफ्तार अन्य की...

कैमूर में भड़काऊ पोस्ट लगाने के मामले में दो गिरफ्तार अन्य की तलाश जारी

Bihar: कैमूर जिले के भभुआ थाना क्षेत्र अंतर्गत राजेंद्र सरोवर के समीप जुलूस नहीं तो वोट नहीं, वोट बहिष्कार का पोस्टर लगाने के विरुद्ध पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस के द्वारा छापेमारी की जा रही है।

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

NAYESUBAH

इस मामले से संबंधित जानकारी प्रेसवार्ता के दौरान कैमूर डीएम सावन कुमार एवं एसपी ललित मोहन शर्मा के द्वारा संयुक्त रूप से देते हुए बताया गया रामनवमी जुलूस में डीजे के उपयोग पर प्रतिबंध लगाया गया था, जुलूस निकालने पर कोई प्रतिबंध नहीं था, मगर कुछ लोगों के द्वारा कैमूर स्तंभ स्थित राजेंद्र सरोवर के पास एक पोस्टर बैनर लगाया गया, जिसमें जुलूस नहीं तो वोट नहीं चुनाव बहिष्कार करते हुए एक विशेष समुदाय के लोगों के धार्मिक भावना को आहत करते हुए अफवाह फैलाने की कोशिश की गई थी इसके साथ ही लोकतांत्रिक प्रक्रिया को बिना किसी कारण बाधित करने का प्रयास किया गया।

बैनर लगाने की सूचना पर तत्काल मौके पर प्रशासन के द्वारा पहुंचकर बैनर को हटवाते हुए इस कार्य को अंजाम देने वाले अज्ञात लोगों के विरुद्ध भभुआ थाने में प्राथमिकी दर्ज गई थी और अनुसंधान प्रारंभ कर दिया गया था अनुसंधान के क्रम में ही यह पाया गया कि अग्रवाल प्रिंटिंग प्रेस में सचिन सिंह पिता रविंद्र राय वार्ड संख्या 16 शक्तिनगर के द्वारा अग्रवाल प्रिंटिंग प्रेस में पहुंचकर संचालक के साथ बैठकर बैनर का डिजाइन करवाया गया था, उसी दिन देर शाम 8 बजे करीब में 8 से 10 अज्ञात लोगों के साथ अग्रवाल प्रिंटिंग प्रेस से बैनर को ले जाकर राजेंद्र सरोवर के समीप टंगवाया गया था।

इस मामले में कार्रवाई करते हुए प्रिंटिंग प्रेस के संचालक एवं सह संचालक संदीप कुमार अग्रवाल पिता कृष्ण मुरारी अग्रवाल एवं वैभव कुमार अग्रवाल पिता अरुण कुमार अग्रवाल दोनों वार्ड 17 के निवासी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
इस मामले में सचिन सिंह पिता रविंद्र राय सहित अन्य 8 से 10 की संख्या में जो बैनर लगाने में सहयोग किए थे उनकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास जारी है।
वहीं कैमूर डीएम सावन कुमार एवं कैमूर एसपी ललित मोहन शर्मा के द्वारा कैमूर वासियों से अपील करते हुए कहा गया है किसी भी असामाजिक लोगों के बहकावे में ना आए अनाथ विधि व्यवस्था भंग करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments