Homeमोहनियाअस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम दुर्व्यवस्था देख भड़के, दो प्रबंधकों पर...

अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम दुर्व्यवस्था देख भड़के, दो प्रबंधकों पर गिरी गाज

Bihar: मोहनियां, शुक्रवार को डीएम सावन कुमार के द्वारा अनुमंडलीय अस्पताल का औचक निरीक्षण किया गया। जंहा साफ सफाई की स्थिति संतोषजनक नहीं मिली। वार्ड एवं प्रतीक्षालय के पंखे खराब थे। जिससे मरीजों को काफी समस्या हो रही है। जिसके बाद त्वरित करवाई करते हुए दुर्व्यवस्था से नाराज डीएम ने अस्पताल के प्रबंधक और लेखा प्रबंधक की सेवा समाप्त करने का सिविल सर्जन को निर्देश दिया। अस्पताल का एक्सरे बंद था। पूछने पर पता चला कि वोल्टेज कम है। जबकि एजेंसी कर साथ इकरारनामा में बिजली नहीं रहने की स्थिति में जेनरेटर उपलब्ध कराना है। सफाई में कमी को लेकर एजेंसी के विपत्र से 75 प्रतिशत और एक्सरे चालू नहीं रहने के कारण संबंधित एजेंसी की 75 प्रतिशत राशि कटौती का डीएम ने डीपीएम को निर्देश दिया।NS News

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

मोहनियां भाग तीन की जिला पार्षद गीता पासी ने लंबे समय से ट्रामा सेंटर के एसी के ख़राब होने की शिकायत की। जांच में शिकायत सही मिली। भीषण गर्मी और लू में पंखे एवं एसी के मरम्मति के संबंध में डीएम ने अस्पताल के लेखा प्रबंधक से पूछताछ की। उन्होंने बजट उपलब्ध नहीं होने की बात कही। जांच में पाया गया कि बजट की कोई समस्या नहीं है। वहीं अस्पताल के प्रबंधक के बारे में शिकायत मिली कि वे औरंगाबाद से सप्ताह में एक दो दिन ही अनुमंडल अस्पताल आते हैं। जिससे अस्पताल की व्यवस्था लाचार है। डीएम ने अस्पताल के लेखा प्रबंधक और अस्पताल प्रबंधक को तत्काल सेवा मुक्त करने को सिविल सर्जन को निर्देश दिया।

निरीक्षण के दौरान पाया गया कि अनुमंडल अस्पताल में प्रतिनियुक्त डा.दिनेश चौहान,डा. रूपेश श्रीवास्तव एवं डा. विंध्याचल सिंह रोस्टर में एक दिन में 24 घंटे काम करते हैं। उपाधीक्षक द्वारा इस संबंध में बताया गया की उपयुक्त चिकित्सकों द्वारा मनमाने ढंग से दबाव में रोस्टर तैयार कराया गया है। दूरभाष पर संपर्क करने पर चिकित्सकों ने संतोषजनक जवाब नहीं दिया जा सका। डीएम ने तीनों चिकित्सा पदाधिकारियों को तत्काल प्रभाव से यहां से स्थानांतरण करते हुए उनके विरुद्ध कार्रवाई हेतु विभाग को प्रतिवेदित करने का निर्देश सिविल सर्जन को निर्देश दिया गया। डीएम के औचक निरीक्षण से चिकित्सकों व कर्मियों में हड़कंप मच गया है। पूरे दिन इसकी चर्चा होती रही। लोगों में अनुमंडल अस्पताल की व्यवस्था में सुधार की उम्मीद जगी है।

 

 

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments